Swachh Bharat Abhiyan per Nibandh- स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध

नमस्ते दोस्तों मेने इस पोस्ट में स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध कैसे लिखना है उसके बारे में पूरा जानकारी दी है। एग्जाम में किस प्रकार से हैडिंग बनानी चाहिए और पुरे अंक कैसे प्राप्त करना है उसके लिए आपको पोस्ट को लास्ट तक पढ़ना होगा ।

स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध में कौन कौन से हैडिंग लिखनी है इन सभी के बारे में मेने इस पोस्ट में पुरे जानकारी दिया है और डिटेल्स में लिखा है । स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध में हिंदी भाषा   के संबधित  महत्वपूर्ण तथ्य के बारे में जानकारी दिया है । पोस्ट को लास्ट तक पढ़िए और स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध कैसे लिखे उसको समझिये । असा करता हूँ की आप लोगो को काफी अच्छा लगेगा।

Swachh Bharat Abhiyan per Nibandh
Swachh Bharat Abhiyan per Nibandh
रुपरेखा 

  • प्रस्तावना 
  • स्वच्छ भारत अभियान क्या है 
  • स्वच्छता अभियान से जुड़े लोग 
  • स्वच्छ विद्यालय अभियान 
  • ग्रामीण स्वच्छ भारत मिशन 
  • सरकार के द्वारा किया गया सहयोग 
  • मीडिया के द्वारा किया गया सहयोग 
  • हम लोगों द्वारा किया गया सहयोग 
  • सामूहिक दायित्व 
  • उपसंहार 

प्रस्तावना 

भारतीय संस्कृति का स्वच्छता से पुराना नाता रहा है यहां के अधिकांश पर्व ऐसे हैं जिनकी तैयारियों के लिए सफाई कुछ दिन पूर्व से ही शुरू हो जाती हैं। घरों की सफाई, पुताई, लिपाई, आदि सभी काम शुरू हो जाते हैं। इन त्यहारों पर ऐसा प्रतीत होता हैं कि किसी ने सफाई अभियान का संखनाद कर दिया हो लेकिन विडम्वना यह हैं कि यह अभियान केवल घरों की साफ – सफाई तक ही सिमटा रह जाता हैं । समाज का प्रत्येक ब्योक्ति अगर सिर्फ अपने घर की सफाई ही करेगा तो फिर हमारे आसपास की गंदगी को कौन साफ करेगा ।

समाज के ब्योक्तियों को आसपास भी सफाई करनी चाहिए। बहुत से लोग यह जानते हैं कि पार्क सड़क या अन्य स्थलों पर किसी प्रकार की गंदगी नहीं करनी चाहिए लेकिन फिर भी गन्दगी फैलते हैं। अगर इस चीज का वह ख्याल रखें कि कूड़ेदान में ही कूड़ा डालना हैं तो शायद हमारे आसपास इतनी गंदगी न हो ।

स्वच्छ भारत अभियान क्या हैं 

यह एक ऐसा अभियान हैं जो हमारे देश की स्वच्छता के लिए शुरू किया गया हैं इस अभियान को आधिकारिक तौर पर राज घाट नई दिल्ली में 2 अक्टूबर 2014 को महात्मा गांधी की 145 जयंती पर परधानमंत्री नरेंद्र मोदी दवरा शुरू किया गया था। प्रदुषण मुक्त बनाना स्वच्छ भारत देश के लिए सबसे अच्छा उपाय हैं । स्वच्छ भारत अभियान सरकार द्वारा आयोजित एक सज्जन आंदोलन हैं।

यह सबसे मूल्यवान अभियान हैं। और हर भारतीय को उज्जवल भारत के भबिष्य के लिए इस अभियान के बारे में पता होना चाहिए। यह राजनितिक मुक्त अभियान हैं, जो देश के कल्याण पर बेहद जोर देता हैं। इस अभियान में सभी लोग सहयोग दे रहे हैं। यह अभियान के माध्यम से लोगों के प्रेरित करना हैं। स्वच्छता को विश्व स्तर पर जागरूकता कार्यक्रम के रूप में सामने लेते हैं और लोगों को प्रेरित करने का काम करते हैं। स्वच्छता अभियान देश के पूरी तरह स्वच्छ रखने का अभियान है जो की सभी ब्योक्ति अपना महत्वपूर्ण स्थान दे रहे हैं।

स्वच्छता अभियान से जुड़े लोग 

स्वच्छ बहरत अभियान के बारे में महान बात यह हैं की इस स्वच्छता अभियान को शुरू करते समय प्रधानमंत्री ने खुद भारत के लोगों के लिए एक उदाहरण स्थापित करने के लिए सड़क साफ कर दी थी उन्हने अपने अभियान से जुड़ने के लिए प्रशिद्ध ब्याक्तित्वो नियुक्त किए जिनका नाम सचिन तेंदुलकर , बाबा रामदेव, अनिल अम्बानी, सलमान खान, प्रियंका चोपड़ा और तारक मेहता का उल्टा चस्मा आदि लोगों की टीम शामिल कि प्रधानमंत्री जी ने राजनेता , खिलाड़ियों और कलाकारों को भी नामित किया।

स्वच्छ भारत अभियान आज देश के कोने – कोने में चल रहा हैं। सभी लोगों के सहयोग से अभियान जारी हैं। इस अभियान में क्रिकेट, राजनेता कलाकार सभी लोगों अपने माध्यम से समाज के लोगों का इस योजना के बारे में बताते हैं और यह अपील करते हैं कि अपने समाज के आसपास कि सफाई पर विशेष ध्यान रखें। सभी ब्योक्ति अगर अपने आसपास साफ सफाई रखेंगे तो समाज में इतनी गंदगी नहीं होगी।

स्वच्छ विद्यालय अभियान 

स्वच्छ विद्यालय अभियान केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा चलाया जाता हैं, जिसमें स्कूलों में स्वच्छता मुख्य उद्देश्य हैं इसके तहत एक बड़ा कार्यक्रम 25 सितंबर 2014 से 31 अक्टूबर 2014 केंद्रीय विद्यालयों और नवदय विद्यालय में आयोजित किया गया था। जहां कोई स्वच्छता गतिविधियां आयोजित किया गया था। जहां कोई स्वच्छता गतिविधियां आयोजित की गयी थी जैसे छात्रों द्वारा स्कूल विधानसभा विभिन्न सफाई पहलुओ पर चर्चा स्वच्छता के विषयों पर महात्मा गांधी की शिक्षाएं पुस्तकालयों, प्रयोगशालाओं, रसोई, शेड स्टार, खेल के मैदानों, शौचालय आदि में सफाई के बारे में जानकारी देते हैं और उन्हने निबंध की प्रतियोगिता, पेंटिंग, बहस, फिल्म इत्यादि को शामिल किया गया था। सप्ताह में दो बार विद्यालयों की सफाई आधे घंटे की सफाई अभियान आयोजित करने की योजना बनाई गई थी।

ग्रामीण स्वच्छ भारत मिशन 

ग्रामीण स्वच्छ भारत मिशन एक ऐसा अभियान हैं जिसमें ग्रामीण भारत में स्वच्छता कार्यक्रम को अमल में लाना हैं। ग्रामीण क्षेत्रों को स्वच्छ बनाने के लिए 1999 में भारतीय सरकार द्वारा इससे पहले निर्मल भारत अभियान की स्थापना की गई थी लेकिन इसको पूर्ण स्वच्छता अभियान कहा जाता हैं पर अब इसके पुनर्गठन स्वच्छ भारत अभियान के रूप में किया गया हैं। इसका मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में खुले में शौच करने से रोकना हैं इसके लिए सरकार ने 11 करोड़ 11 लाख शौचालय के निर्माण कराने के लिए 1 लाख 34 हज़ार करोड़ की राशि खर्च करने की योजना बनाई हैं।

सरकार के द्वारा किया गया सहयोग 

हम जानते हैं कि हमारी सरकार आजकल देश कि स्वच्छता को लेकर के कितनी चिंतित हैं और वह इस चिंता को दूर करने लिए सरकार ने क्या निति अपनाई हैं। स्वच्छ भारत अभियान माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाया गया भारत सरकार का यह एक सफाई अभियान हैं । इस अभियान को क्लीन इंडिया मिशन (Clean India Mission) और स्वच्छता अभियान का मिशन नाम दिया गया हैं ।

यह एक राष्ट्रीय स्तर का अभियान हैं । यह भारत सरकार द्वारा चलाया जा रहा हैं जो कि शहरों  और गावों कि सफाई के लिए आरम्भ किया गया हैं। इस अभियान में शौचालय का निर्माण, सड़कों कि सफाई देश की बुनयादी ढांचे को बदलना आदि शामिल हैं।

मीडिया के द्वारा किया गया सहयोग 

हम अच्छी तरह से जानते हैं कि आज के युग में मीडिया का हमारे जीवन में क्या महत्व हैं। सरकार द्वारा बनाई गई नीतियों की जानकारी मीडिया ही समाज तक हर घर में पहुंचती हैं। मीडिया स्वछता को लेकर के अपने अपने चेनलो के माध्यम से ब्योक्तियों को जानकारी प्रदान करती हैं।

अगर कोई स्थान ऐसा हैं जहां पर बहुत ही गंदगी हैं और वहां के कर्मचारी या कोई भी ब्योक्ति साफ सफाई नहीं करता हैं तो न्यूज़ चैनल में वह इस तरह की जानकारियों को देखा करके सरकार मंत्री एवं समाज को इस बात से अवगत कराते हैं। जब मंत्रियों व सरकार को जानकारी हो जाती हैं फिर उस जगह पर कर्मचारियों से सफाई करवाते हैं तो इस प्रकार से मीडिया का अपना एक विशेष महत्व हैं।

हम लोगों द्वारा किया गया सहयोग 

जब से प्रधानमंत्री मोदी जी ने स्वच्छता अभियान को चलाया हैं तब से हमारे में जागरूकता का बहुत विस्तार हुआ हैं। प्रत्येक ब्योक्ति साफ सफाई में अपना महत्वपूर्ण स्थान दे रहा हैं। हमारे समाज में शिक्षित ब्योक्ति साफ सफाई के महत्व को भली भांति समझते हैं लेकिन अशिक्षित ब्योक्ति सफाई को न इतना समझते हैं और ना वो इतना महत्व देते हैं। वह जहां चाहे कूड़ा फैलाते हैं लेकिन प्रधानमंत्री मोदी जी ने जब से स्वच्छ भारत अभियान के शुरुआत की बात की हैं तब से सभी ब्योक्ति साफ सफाई में अपना विशेष स्थान दे रहे हैं। गांव से लेकर के शहर तक यह अभियान जारी हैं।

सामूहिक दाइत्व

हमारे समाज में जब से स्वच्छता अभियान की बात हुई हैं तब से हम देख सकते हैं कि कोई मंत्रियों का समूह, कॉलेजो से बच्चे या टीचरो का समूह सड़क पर तथा जगह जगह साफ सफाई के लिए निकलते हैं और हमारे समाज की सफाई करे हैं । यह हम सभी लोगों का दाइत्व हैं शहरों में कोई स्थल ऐसे होते हैं जहां पर बहुत गंदगी होती हैं  वह कर्मचारी साफ नहीं करते तो ऐसे स्थलों की सफाई समाज के ब्योक्तियों को मिलकर ही कर लेनी चाहिए किसी और के भरसे नहीं छोड़ना चाहिए। समाज में ब्योक्तियों को प्रत्येक दिन घर के अस पास झाड़ लगाना चाहिए जब प्रत्येक ब्योक्ति ऐसा करेगा तो हर जगह पर साफ सफाई होगी। जब समाज साफ रहेगा तो हमारा देश भी साफ रहेगा। हम सभी को मिलकर के अपने कर्तब्यो का पालन करना चाहिए।

उपसंहार 

स्वच्छ भारत अभियान शुरू होने से समाज में साफ सफाई देखी जा सकती हैं। प्रत्येक ब्योक्ति अपने घर का नहीं बल्कि अपने घर के आस पास भी साफ सफाई का पूरा ध्यान रखता हैं। अंत में हम यह कह सकते हैं कि स्वच्छ भारत अभियान में सभी ब्योक्तियों के सहयोग करने से ही समाज एवं देश को स्वच्छ देखा जा सकता हैं।

अन्य पढ़े :

 

 

Leave a Comment