हिंदी दिवस पर निबंध – Hindi Diwas Par Nibandh

” जन जन को जो मिलती है ,

वो भाषा हिंदी कहलाती है “

नमस्ते दोस्तों मेने इस पोस्ट में हिंदी दिवस पर निबंध कैसे लिखना है उसके बारे में पूरा जानकारी दी है। एग्जाम में किस प्रकार से हैडिंग बनानी चाहिए और पुरे अंक कैसे प्राप्त करना है उसके लिए आपको पोस्ट को लास्ट तक पढ़ना होगा ।

हिंदी दिवस पर निबंध में कौन कौन से हैडिंग लिखनी है इन सभी के बारे में मेने इस पोस्ट में पुरे जानकारी दिया है और डिटेल्स में लिखा है । हिंदी दिवस पर निबंध में हिंदी भाषा   के संबधित  महत्वपूर्ण तथ्य के बारे में जानकारी दिया है । पोस्ट  को लास्ट तक पढ़िए और हिंदी दिवस पर निबंध कैसे लिखे उसको समझिये । असा करता हूँ की आप लोगो को काफी अच्छा लगेगा।

हिंदी दिवस पर निबंध - Hindi Diwas Par Nibandh
हिंदी दिवस पर निबंध – Hindi Diwas Par Nibandh
रुपरेखा 

  1. प्रस्तावना
  2. कब और क्यों मनाया जाता है 
  3. हिंदी दिवस का महत्व 
  4. हिंदी दिवस का वर्णन 
  5. उपसंहार 

 

प्रस्तावना 

भारत के संबिधान ने देवनागरी लिपि में लिखित हिंदी को अनुच्छेद 343 के तहत देश की आधिकारिक भाषा के रूप में 1949 में अपनाया । विश्व की प्राचीन, समृद्ध और सरल भाषा होने के साथ -साथ हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा भी है । प्रत्येक वर्ष 14 सितंबर को मनाया जाने वाला हिंदी दिवस भारतीय संस्कृति को संजोने और हिंदी भाषा को सम्मान देने का एक तरीका है।

कब और क्यों मनाया जाता है 

  • मानाने का समय

हर साल पुरे भारत में 14 सितंबर का दिन हिंदी को बढ़ावा देने के लिए हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। वर्ष 1918 में गांधीजी  ने हिंदी साहित्य सम्मेलन में हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने को कहा था और 14 सितंबर 1949 के दिन संबिधान सभा ने एक मत से ये निर्णय लिया की हिंदी भारत की राजभाषा होगी।

  • मानाने का कारण/ उद्देश्य 

आजकल के समय में अंग्रेजी की और बहुत लोग झुक रहे है क्यूंकि अंग्रेजी का प्रयोग दुनिया भर में किया जाता है। जबकि हिंदी को लोग भूलते जा रहे है। इसलिए हिंदी दिवस मानाने का प्रमुख कारण है कि हिंदी भाषा की संस्कृति को बढ़ावा देना और हिंदी भाषा को फैलाना है। हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा है और राष्ट्रभाषा किसी भी देश की पहचान और गौरव होती है।

हिंदी दिवस का महत्व 

हिंदी दिवस हमें  हमारी असली पहचान की याद दिलाता है और देश के लोगों को एकजुट करता है। हिंदी दिवस एक ऐसा दिन है जो हमें  देशभक्ति की भावना के लिए प्रेरित करता है। हिंदी दिवस हर साल हिंदी के महत्व पर जोर देने और हर हर पीढ़ी के बिच इसको बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता है। हमारी भाषा हमारे देश की संस्कृति और संस्कारों का प्रतिबिंब है।

हिंदी दिवस का वर्णन 

हिंदी दिवस को स्कूलों, कॉलेजो और कार्यालयों में मनाया जाता है । हिंदी दिवस का उत्स्वब राष्ट्रीय स्तर पर भी मनाया जाता है। जिसमें देश के राष्ट्रपति उन लोगों को पुरस्कार देते हैं जिन्हाने हिंदी भाषा से संबधित किसी भी क्षेत्र में उत्कृष्टता हासिल की हैं।

इस दिन स्कूलों और कॉलेजो में वाद – विवाद , कविता , कहानी, भाषण आदि कार्यक्रम होते हैं। इसके अलावा अन्य कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए जाते हैं । शिक्ष्य्क भी हिंदी भाषा पर जोर देने के लिए भाषण देते हैं। बहुत से स्कूलों में हिंदी निवंध प्रतियोगिताएं भी होती हैं। इस  दिन महिलाऍ साडिया और पुरुष कुर्ता पजामा पहनते हैं जो भारतीय परिधान की पहचान हैं।

उपसंहार 

आजकल बिदेशी भाषाओं पर तो बहुत ध्यान दिया जाता हैं लेकिन हिंदी की तरफ कोई खास ध्यान नहीं दिया जाता हैं। लेकिन हमें हिंदी को नहीं भूलना चाहिए की हिंदी हमारा राष्ट्रभषा हैं । हमें हमारी राष्टीय भाषा का सम्मान करना चाहिए क्यूंकि हिंदी हमारी संस्कृति और सभ्यता को बताती हैं। हिंदी दिवस मानाने का अर्थ ही है गुम हो रही हिंदी को बचानेka प्रयास करना।

Leave a Comment